Topic

[:en]Cities[:ne]शहरहरु[:hi]शहरहरु[:bn]নগরসমূহ[:ur]شہر [:]

  • क्या हम जानवर हैं? दक्षिण एशिया के लॉकडाउन का खामियाजा भुगत रहे प्रवासी मजदूर

    अप्रैल 27, 2020

    भारत, पाकिस्तान और नेपाल में प्रवासी मजदूरों को भयानक गरीबी से शापित होना पड़ गया है क्योंकि कोविड-19 महामारी के कारण लॉकडाउन होने से अचानक उनकी कमाई बंद हो गई है

  • slums in Ganj Road, Shimla

    कोरोना वायरस: पहाड़ी शहरों की झुग्गियों में रहने वालों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग एक क्रूर मजाक

    मार्च 25, 2020

    बामुश्किल मीटर भर चौड़ी गलियों में छोटी-छोटी झुग्गियों में ठुंसे गरीबों के लिए कॉविड-19 अनेक मुसीबतें लेकर आया है। सोचने वाली बात है कि ऐसे लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कैसे कर सकते हैं?

  • हिमालय में बढ़ती प्यास

    मार्च 03, 2020

    एक नये अध्ययन में उन प्रमुख वजहों की तरफ ध्यान दिलाया गया है जिनकी वजह से हिमालयन रीजन के कस्बों और शहरों में जल संकट बढ़ता जा रहा है।

  • पटना के घाटों को छोड़कर जा रही हैं गंगा

    मई 11, 2018

    गंगा को पुनर्जीवित करने की योजना एक बेहद महात्वाकांक्षी योजना है। इसके तहत पटना में घाटों को आकर्षक बनाया जा रहा है। लेकिन इस बात पर बहुत कम ध्यान दिया जा रहा है कि नदी शहर से किलोमीटरों दूर चली गई है।

  • Shahzad Qureshi standing inside his urban forest [image by: Zofeen T. Ebrahim]

    कराची के दिल में बसाया गया एक जंगल

    अप्रैल 23, 2018

    शहर के बीच में प्रकृति का अनुसरण करने और वनों को बढ़ावा देने की जापानी तकनीक को पाकिस्तान, भारत और अन्य जगहों पर अपनाया जा रहा है। ये बड़े शहरों में तेजी से बढ़ती हुई गर्मी का सामना करने का एक तरीका है।

  • Dal Lake, Half of Kashmi's wetlands have disappeared in the last century [mage by Athar Parvaiz]

    अंधाधुंध शहरीकरण और वेटलैंड्स की तबाही

    फ़रवरी 13, 2017

    अगले 15 सालों में भारत की शहरी जनसंख्या में 20 करोड़ तक का इजाफा होगा और इसका सीधा भार वेटलैंड्स पर पड़ने वाला है। इसलिए हमें ऐसी अर्बन प्लानिंग की जरूरत है जिससे हम भविष्य के खतरों से बच सकें।

  • Varanasi water pollution

    मोदी के बनारस में पीने का साफ पानी नहीं

    अक्टूबर 12, 2015

    पाइपों में रिसाव के कारण सीवेज वाला पानी, शोधित पानी में मिल जाता है और गंगा का पानी पहले से ही बहुत ज्यादा प्रदूषित है, ऐसे में बनारस के लोग पेट संबंधी अनेक बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। साफ और बेहतर जल आपूर्ति के लिए लोगों को अब केवल केंद्र सरकार की एक योजना पर यकीन है।

  • বায়ু দূষনের হাত থেকে বাঁচতে মুখে মাস্ক বাঁধার দৃশ্য এখন অহরহই দেখা যায় ভারতে

    अब सरकार ने भी माना, जहरीली हवाएं हैं जानलेवा

    सितम्बर 15, 2015

    भारत सरकार ने पहली बार स्वीकार किया है कि पिछले 9 साल के दौरान वायु प्रदूषण के कारण 35,000 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। हालांकि कई स्वतंत्र अध्ययनों में ये आंकड़ा इससे काफी ज्यादा बताया जा रहा है। पर असली सवाल ये है कि इस हालात से निपटने के लिए क्या सरकार पर्याप्त कदम उठा रही है?

  • गंगा-यमुना का कायाकल्प अभी दूर की कौड़ी है

    जुलाई 17, 2014

    देश की दो प्रमुख नदियों गंगा और यमुना की सफाई की बारे में बहुत जोर-शोर से चर्चा हो रही है। बेहद प्रदूषित इन दोनों नदियों के दिन बहुरने की क्या उम्मीदें हैं, इस पर यमुना जिये अभियान के संयोजक मनोज मिश्र का विश्लेषण।